Kanjoos Lyrics in Hindi from movie Gulabo Sitabo sung by Mika Singh. The song lyrics by Puneet Sharma and music composed by Anuj Garg.

Song Details

kanjoos-lyrics-gulabo-sitabo
  • Song : Kanjoos Lyrics
  • Singer : Mika Singh
  • Lyrics: Puneet Sharma
  • Music By : Anuj Garg
  • Label : Zee Music Company

Full Lyrics

Jeb Mein Na Hath Daale Dusaron Ka Maal Khale
Kharche Sunke Khaasne Lag Jaye Re
Chai Mein Jo Makhhi Jo Gire
Makhhi Chus Ke Nikale
Chaahe Kisi Aur Ki Ho Chai Re

Aanshu Bachane Ke Liye Kare Nahi Cry
Okay Wale Text Ko Bhi K Mein Hi Niptaye
Aanshu Bachane Ke Liye Kare Nahi Cry
Okay Wale Text Ko Bhi K Mein Hi Niptaye

Akal Kitni, ‌‌‍Ho Akal Kitni
Akal Kitni Ho Kharch Kare Kanjoos Haye..

Ho Roti Pane Ghar Ke Liye Jail Chala Jayega
Muft Mein Jaane Ko Mile Hell Chala Jayega

Ho O Ho
Roti Pane Ghar Ke Liye Jail Chala Jayega
Muft Mein Jaane Ko Mile Hell Chala Jayega
Soch Ke Ye Ghar Mein Kabhi Karta Nahi Roshni
Laltain Chalegi To Tel Chala Jayega

Haye Ghar Pe Bhi Jo Bulata Hai
Mehmaano Ko Khilata Hai
Shakkar Chawal Doodh Bina Kheer Ho
Agar Hua Marj Kahin Paisa Kare Kharch Nahi
Taaki Saala Ban Sake Ameer Woh

Aanshu Bachane Ke Liye Kare Nahi Cry
Okay Wale Text Ko Bhi K Main Hi Niptaye
Aanshu Bachane Ke Liye Kare Nahi Cry
Okay Wale Text Ko Bhi K Main Hi Niptaye

Akal Kitni, ‌‌‍Ho Akal Kitni
Akal Kitni Ho Kharch Kare Kanjoos Haye
Akal Kitni Ho Kharch Kare Kanjoos Haye [2x..]

जेब में ना हाथ डाले दूसरों का माल खाले
खर्चे सुनके खाँसने लग जाये रे
चाय में जो मक्खी जो गिरे
मक्खी चूस के निकाले
चाहे किसी और की हो चाय रे

आँसू बचाने के लिए करे नही cry
Okay वाले text को भी k में ही निपटाए
आँसू बचाने के लिए करे नही cry
Okay वाले text को भी k में ही निपटाए

अकल कितनी हो अकल कितनी
अकल कितनी हो खर्च करे कंजूस है
अकल कितनी हो खर्च करे कंजूस है

हो रोटी पानी घर के लिए जेल चला जाएगा
मुफ्त में जाने को मिले hell चला जायेगा

हो ओ हो
हो रोटी पानी घर के लिए जेल चला जाएगा
मुफ्त में जाने को मिले hell चला जायेगा
सोच के ये घर में कभी करता नही रोशनी
लालटेन चलेगी तो तेल चला जायेगा

Haye घर पे भी जो बुलाता है
मेहमानों को खिलता है
शक्कर चावल दूध बिना खीर हो
अगर हुआ मर्ज कहीं पैसा करे खर्च नही
ताकि साला बन सके अमीर वो

आँसू बचाने के लिए करे नही cry
Okay वाले text को भी k में ही निपटाए
आँसू बचाने के लिए करे नही cry
Okay वाले text को भी k में ही निपटाए

अकल कितनी हो अकल कितनी
अकल कितनी हो खर्च करे कंजूस है
अकल कितनी हो खर्च करे कंजूस है
अकल कितनी हो खर्च करे कंजूस है
अकल कितनी हो खर्च करे कंजूस है

Full Video